Kisan Bill Kya Hai in Hindi 2021

Essential Commodities Act

Kisan Bill Kya Hai in Hindi 2021

1 आवश्यक वास्तु अधनियम (भण्डारण नियम )

  पहले बने कानून

आवश्यक वास्तु का भण्डारण नहीं किया जा सकता है क्यूंकि उसे उसका रेट बढ़ जाता है। अगर भण्डारण होने लगेगा आवश्यक वास्तु का तो रेट निर्धारित करना मुश्किल हो जायेगा।

अब कानून(नया कानून )।

नए कानून के मुताबिक आप अब भंडारण कर सकते है। केवल युद्ध और आपदा के समय नहीं कर सकते है।

 

Kisan Bill Kya Hai in Hindi 2021
Kisan Bill Kya Hai in Hindi 2021 | Kisan Bill Kab Pass Hua

2 .Contact farming (price before farming)

कांटेक्ट फार्मिंग (प्राइस बिफोर फार्मिंग )

मूल्य आवशासन पर बंदोवस्त और सुरक्षा  समझौता।

पहले बने कानून

पहले ऐसा कोई कानून नहीं था।

नया कानून के तहत

इस कानून के तहत किसान फसल लगाने से पहले कंपनियों से फसल और फसल का रेट दोनों पहले से तय कर सकता है। किसान को वो  फसल उसी रेट में उसी कंपनी को देना होगा जो पहले तय हो चूका है। चाहे फसल का रेट बाद में घटे या बढ़े या फसल की पैदावार काम हो उसे मतलब नहीं है कंपनी को। किसानो का इसमें नुकसान ये है की अगर बाद में फसल का रेट बढ़ जाता है तो वो फसल किसी और को नहीं बेच सकता है। और फसल ख़राब हो जाती है तो किसान को ही झेलना पड़ेगा।

Kisan Bill Kya Hai in Hindi 2021
Kisan Bill Kya Hai in Hindi 2021 | Kisan Bill Kab Pass Hua

3. Agricultural Production Trade and Commerce

कृषी उत्पादन व्यापार और वाणिज।

पहले बने कानून

पहले किसान अपनी फसल को सरकारी मंडियों में बेचता था। और सरकार के तय किये गए रेट से पैसे मिलते थे किसान को।

नया कानून के तहत

नया कानून के तहत किसान अब अपनी फसल को सरकारी मंडियों में बेच सकता है और सरकारी मंडियों से बहार भी बेच सकता है। जबकि (न स स ओ)के तहत पहले ही मात्र 6% किसान ही अपनी फसल सरकारी मंडियों में दिया करते थे। जो की 94% लोग पहले से ही बाहर अपनी फसल दिया करते थे। सरकार को लगता है (म स पी ) इकोनामी पर बोझ है। (म स पी) से ही आवश्यक वस्तुओं का रेट निर्धार करती थी सरकार।

आजादी से लेकर अभी तक किसानो की इनकम 21 गुना बढ़ गई है। और सरकारी कर्मचारिओं की 180 गुना बढ़ गई है। इसीलिए  किसान आत्महत्या करता आ रहा है। किसानो का अपने देश में बहुत बुरा हाल है।

सरकार को (म स पी ) सकती से लागु करना चाहिए। और (म स पी )फिक्स भी करना चाहिए ताकि किसानो की फसल बिचौलिओं से बची रहे और किसानो को फसल का सही मूल्य मिल सके। और किसानो को सरकार से तकनिकी मदद भी मिलनी चाहिए। मेरा पोस्ट अच्छा लगा हो तो सेयर करे। या आप क्या सोचते है किसानो के बारे में कमेंट कर के बताये।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like